Citizenship Amendment Bill 2019 (CAB) – नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी हुआ पास

0
75

नई दिल्ली – आख़िरकार  केंद्र सरकार(Central Government)  द्वारा छह घंटे से भी अधिक समय तक हुई बहस के बाद नागरिकता संशोधन बिल 2019(Citizenship Amendment Bill 2019 (CAB))राज्य सभा में भी पास करा लिया गया है |सदन में इस  विधेयक को 105 के मुकाबले 125 मतों से पारित कर दिया। लोकसभा इसे पहले ही पारित कर चुकी है।इस बिल के पास होने के बाद आख़िरकार पाकिस्तान (Pakistan), बांग्लादेश (Bangladesh) और अफगानिस्तान (Afghanistan) से यहाँ आने वाले  गैर मुस्लिम प्रवासियों को भारतीय नागरिकता मिलने का रास्ता साफ़ हो जायेंगा जो कि लम्बे समय से भारत में शरणार्थी बनकर रह रहे थे और भारतीय नागरिकता मिलने का इंतज़ार कर रहे थे |इससे पहले विधेयक पर छह घंटे से भी अधिक समय तक हुई चर्चा का केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह(Home Minister Amit Shah) जवाब देते हुए कहा कि ने इस विधेयक के जरिये तीन पड़ोसी देशों पाकिस्तान, बंगलादेश और अफगानिस्तान में धार्मिक आधार पर प्रताड़ना झेलने के बाद यहां शरणार्थी का जीवन गुजार रहे अवैध प्रवासियों को उनका अधिकार और सम्मान देने का काम किया है। विधेयक में इन तीनों देशों में रहने वाले हिन्दू, ईसाई, सिख, पारसी,जैन और बौद्ध अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का प्रावधान है। उन्होंने राज्यसभा को आश्वस्त किया कि नागरिकता संशोधन विधेयक में संविधान का किसी भी तरह से उल्लंघन नहीं किया गया है और यह अल्पसंख्यकों विशेषकर मुस्लिमों को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता क्योंकि यह नागरिकता लेने वाला नहीं बल्कि नागरिकता देने वाला विधेयक है।सदन में कांग्रेस समेत ज्यादातर विपक्षी पार्टियों ने इस बिल का विरोध किया जिसमे शिवसेना भी शामिल रही |

Live MCX

एक ओर जहाँ इस बिल को लेकर देश के उत्तर- पूर्वी राज्यों खासकर असम(Assam),त्रिपुरा(Tripura) में आम लोगो द्वारा भारी विरोध किया जा रहा है जिसके कारण इन राज्यों में आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है और कई जगह आर्मी को भी तैनात करना पड़ा है |वहीँ इस बिल के पास होने के बाद इन तीन देशो से आये लाखो शरणार्थियों में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी है और वो लोग केंद्र सरकार के इस कदम का पूरे जोश से स्वागत कर रहे है |
 

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here