बंद घर की सूखी नाली देख करते थे चोरी

0
92

जालौन-कोतवाली क्षेत्र के अलग-अलग मोहल्लों में पिछले कुछ माह में हुई कई चोरियों में शामिल चार शातिर चोरों को पुलिस ने दबोच लिया। चोर गिरोह के सदस्य मोहल्लों में पहले रेकी करते थे और जिस बंद घर की नालियां सूखी दिखती थीं, वहीं रात में चोरी की वारदात को अंजाम देते थे। चोरों के पास से सोने-चांदी के जेवर, नगदी, दो बाइकें व तमंचा कारतूस बरामद हुआ। चोरियों में शामिल तीन और चोरों की पुलिस तलाश कर रही है। पुलिस ने चारों पर गैंगस्टर की कार्रवाई की। वहीं गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को एसपी ने दस हजार का इनाम दिया।

Live MCX

शहर कोतवाली पुलिस द्वारा पकड़े गए चार चोरों का पुलिस कार्यालय में खुलासा करते हुए एसपी स्वामी प्रसाद ने बताया कि मोहल्ला गांधी नगर निवासी कैलाशचंद्र वर्मा के घर पर 23 जून को चोरी हुई थी। नया पटेल नगर में दीपक तिवारी के घर पर 4 जून, कुंती देवी नया पटेलनगर चुर्खी बाईपास के घर पर 1 जून, शकुन देवी नया पटेलनगर उरई के घर पर 30 मई, सभी चोरियों की रिपोर्ट कोतवाली में दर्ज थीं। कोतवाली पुलिस ने गुरुवार सुबह 4 बजे जालौन बाईपास तिराहे के पास से अभिलाख सिंह उर्फ छुन्नू पुत्र दशरथ अहिरवार निवासी बड़ी माता के पास बंगरा माधौगढ़, मानवेंद्र उर्फ डोलू पुत्र अशोक अहिरवार निवासी कोंच बस स्टैंड के पास उरई, अमन उर्फ बाबी पुत्र अशोक कुमार जाटव निवासी कोंच बस स्टैंड उरई, सत्यदेव पुत्र नंदराम अहिरवार निवासी ईदगाह पीछे रामनगर उरई को गिरफ्तार कर लिया।

पकड़े गए चोरों से बरामद सामान

दो सोने के हार, आठ अंगूठियां, पांच मंगलसूत्र, तीन सोने की चेनें, छह चूड़ियां, दो कमर पेटी चांदी की, 14 जोड़ी पायल, 23 बिछिया, पांच चांदी के सिक्के, तीन मोबाइल, दो बाइकें, 21 हजार 900 रुपने नगद, तमंचा कारतूस सहित लगभग सात लाख का माल बरामद हुआ।

रेकी कर करते थे चोरी

पुलिस द्वारा पकड़े गए चोरों ने बताया कि हम लोग खाली मकान में लगे हुए ताले देखकर पूरे दिन रेकी करते रहते थे और जब शाम तक उस घर की नाली सूखी रहती थी तो समझ जाते थे कि घर में कोई नहीं है और फिर रात में चोरी करते थे। इसमें अधिकतर सफल भी होते थे, लेकिन कई बार रात में लोगों के आ जाने पर असफल भी हो जाते थे। चोरों ने बताया कि चोरियों का अन्य माल उनके भागे हुए साथियों के पास है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here