अपराधियों ने अपराध के ढूंढे नए तरीके, पुलिस बनकर महिला को ठगा

0
185

झारखंड-पहले जमाने में अपराधियों के अपराध के तीन ही मुख्य रास्ते थे चोरी, डाका और हत्या। लेकिन इस कलयुग में अपराध के दिन व दिन नए-नए तरीके ने आम लोगो को सोचने पर मजबूर कर दिया है। हालात यह है कि अब पुलिस बनकर दिन-दहाड़े महिलाओं से सोने के जेवरात लूटे जा रहे हैं। तीन बदमाशों ने पुलिस बनकर एक महिला को सुबह यह बताया कि शहर में आए दिन महिलाओं से जेवर छिंतई की घटना घट रही है। फिर आप इतना जेवर पहनकर क्यों घूम रही हैं।

Live MCX

नगर थाना क्षेत्र के कोतवाली ओपी के गंगासागर मुहल्ला निवासी स्व. लक्ष्मी नारायण साह की पत्नी सुषमा रानी सुबह के करीब 6 बजे साधना करने के लिए ब्रह्म कुमारी के संस्थान जा रही थी। इस बीच तीन बदमाश पहुंच कर कोतवाली ओपी के चंद कदम दूर पर रोक लिया और बोला आप इतना जेवर पहनकर अकेले सफर क्यों कर रही हैं? बदमाशो ने अपने को पुलिस वाला बताकर और डरा धमका कर पूछा कि कहां जाना है? पीड़िता ने बताया कि वह साधना करने के लिए जा रही है तो बदमाशों ने कहा कि साधना में जेवर का क्या काम।

महिला कुछ समझ पाती उससे पहले ही हाथ के सोने का दो बाला, कान का दो टॉप्स, गले की चैन तथा हाथ से सोने की अंगूठी निकलवा लिया। कुछ पल बाद बदमाश ने एक जेवर वापस कर दिया और कहा कि महिला के बदन पर एक जेवर रहनी चाहिए। कुछ देर बाद जब पीड़िता अपना जेवर लेने थाना पहुंची तो उसे जानकारी मिली कि वह ठगी का शिकार हो गयी है। इसको लेकर एसडीपीओ अनोज कुमार एवं सर्किल इंस्पेक्टर अरुण कुमार एवं कोतवाली ओपी प्रभारी विपिन कुमार महिला से पूछताछ करने में जुटे हुए हैं।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here