सोना-चांदी से गढ़े दुकान के दस्तावेज का हुआ रजिस्ट्रेशन, बना रिकॉर्ड

0
183

हर व्यक्ति किसी भी प्रकार की प्रापर्टी खरीदता है, तो उसे तहसील जाकर प्रापट्री के दस्तावेज बनवाने पड़ते है, क्योकि बिना दस्तावेजो के लीगल रूप से आप प्रापर्टी के हकदार नहीं होते है। लेकिन क्या आपने कभी किसी प्रापर्टी के सोने-चांदी से गढ़े दस्तावेज देखे है? आज हम आपको बताने जा रहे है, एक महिला के बारे में जिसने एक दुकान खरीदी और उसकी रजिस्ट्री में सोने-चांदी का प्रयोग किया गया।
दरअसल सूरत में रहने वाली यह महिला ने तकरीबन 8 लाख रू की एक दुकान खरीदी, एंव उसकी रजिस्ट्री करवाने के लिए महिला ने अपने वकील से संपर्क किया।
वकील ने अपनी क्लाइंट को दुकान के दस्तावेज अनोखे ढंग से तैयार करवाने की सलाह दी थी, वकील की सलाह के मुताबिक दुकान के दस्तावजे में 2 किलो 600 ग्राम चांदी, तकरीबन 10 ग्राम सोना और हीरे का भी इस्तेमाल किया गया। रजिस्ट्रेशन करवाने वाले वकील का दावा है कि अपने तरह का देश का पहला प्रॉपर्टी दस्तावेज है।
8 लाख रू की कीमत की दुकान का दस्तावेज रजिस्ट्र्रेशन होने के इस मौके पर वर्ल्ड रिकॉर्ड इंडिया बुक का खिलाब भी मिल चुका है। वर्ल्ड रिकार्ड इंडिया के अधिकारी पावन सोलंकी ने बताया कि सिर्फ इंडिया स्तर पर ही नहीं बल्कि वर्ल्ड लेवल पर भी इस तरह के प्रॉपर्टी दस्तावेज को लेकर सर्च किया गया था, मगर देश और दुनिया में इस तरह से अनोखे दस्तावेज का कोई प्रमाण नहीं मिला था। सोने-चांदी के अलावा इसमें 200 अमेरिकन डायमंड भी पिरोये गए है। इसे बनवाने के करीब 2 लाख रू का खर्चा हुआ है। इसमें सभी कानूनी मानकों का पालन किया गया है, इस दस्तावेज को स्कैन भी किया जा सकेगा और इसमें विशेष प्रकार का सिक्का और स्याही उपयोग की गई है।

Facebook Comments
Live MCX

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here