इस खदान में 60 हजार करोड़ मूल्य के हीरे का भंडार

0
95

भोपाल-छतरपुर जिले के बकस्वाहा की 364 हैक्टेयर में फैली हीरा खदान की नीलामी एक सप्ताह में करने की तैयारी कर ली गई है। जुलाई के पहले सप्ताह में ग्लोबल टेंडर जारी हो जाएंगे। इस खदान में 60 हजार करोड़ मूल्य के हीरे का भंडार है। देश के बड़े औद्योगिक समूह अडानी-वेदांता और मुंबई की फ्यूरा ने खदान से जुड़ी जानकारी व प्रारंभिक सर्वे रिपोर्ट खनिज विभाग से मांगे हैं। इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका की घाना डायमंड कंपनी ने भी रुचि दिखाई है।

Live MCX

मप्र सरकार को इस हीरा खदान की नीलामी से बड़ा राजस्व मिलने की उम्मीद है। इसीलिए नीलामी पहली बार मप्र में की जाएगी, इसके बाद इसे ग्लोबल किया जाएगा। गौरतलब है कि यह हीरा खदान पूरी तरह के वन विभाग की जमीन पर स्थित है। इसलिए खदान लेने वाली कंपनी को ही केंद्र सरकार से पर्यावरण मंजूरी लेनी होगी। इसके बाद वह 15 से 20 साल तक इस खदान का संचालन कर हीरा खनन कर सकती है।

हीरे का निर्यात भी कर सकेंगी कंपनी

बताया गया है कि मप्र में उत्पादन व पॉलिशिंग इकाई की स्थापना से जुड़ी शर्त हटाने के बाद अब जो भी कंपनी यह खदान लेगी, वह उसका निर्यात कर सकेगी। इसके अलावा वह स्वतंत्र होगी कि वह कहीं भी पॉलिशिंग इकाई लगाए।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here