आएगी समृद्धि होगें रोग दूर, इन ज्योतिष तरीकों से पहने सोना

0
196

सोना एक मूल्यवान धातु है, जिसे हर कोई पसंद करता है, विशेषकर महिलाओ की बात करें तो सोने का आभूषण उनके श्रंगार मे चार चादं लगा देते है। ज्योतिष के अनुसार, सोना केवल सुंदरता ही नहीं बल्कि आपको कई रोगों से भी बचाता है। सोना देवगुरू बृहस्पति ग्रह का कारक माना जाता है। बृहस्पति के धन, ऐश्वर्य के कारक के रूप में देखा जाता है। आईए जानते हैं सोना आपके जीवन में किस तरह का प्रभाव डालता है।

Live MCX

ह्रदय रोग और सर्दी-खांसी से बचाव-

ज्योतिष के अनुसार, जिस व्यक्ति को हार्ट से संबंधित रोग या फिर सर्दी-जुकाम है, साथ ही मान-सम्मान में कमी आ रही है तो उनामिका यानी रिंग फिंगर में सोने या तांबे की धातु की अंगूठी पहने। ज्यातिषशास्त्र में गुरू और उसके धातु सोना को गर्म प्रकृति का माना है। इस धारण करने से शीत जनित रोग से बचाव होता है।

लाॅकर में इस तरह रखे सोना, बढे़गी समृद्धि-

सोने की तिजोरी, अलमारी या लाकर जहा भी रखे, आप उसे लाल कपड़े में बांधकर रखें। इससे बृहस्पति को मंगल की सहायता मिलने लगेगी और आपकी समृद्धि बढ़ती जाएगी।

भूलकर भी यहां न रखे सोना-

कभी भी सोने को सोते वक्त अपने सिरहाने भूलकर भी नहीं रखें। ज्यादातर लोग अपनी अंगुठी या चैन निकालकर तकिए के नीचे रख देते हैं। इससे नींद संबंधी समस्या हो सकती है, साथ ही अन्य समस्याएं भी हो सकती है।

हो जाता है, डिप्रेशन-

ज्योतिष में बताया गया है कि जो स्त्री कान में सोने की बालियां या झुमके नहीं पहनती हैं, उन स्त्रियों में स्त्री रोग, कान के रोग, डिपे्रशन, व हीन भावना होने की आशंका होती है।

बृहस्पति देते हैं अशुभ प्रभा-

कभी भी सोने के आभूषण के साथ हमें नकली आभूषण और लोहा नहीं रखना चाहिए। कुछ लोग लोहे के सिक्के रख देते हैं, जो ज्योतिष के हिसाब से सहीं नहीं है। क्योंकि ऐसा करने से बृहस्पति अशुभ होकर अपना शुभ प्रभाव देना छोड़ देता है।

इस वक्त ना पहनें सोना-

गुरू बृहस्पति धर्म का प्रतिनिधित्व करते हैं इसलिए सोना धारण करने वालो को मांस-मदिरा के सेवन से बचना चाहिए। सोना आपकी किस्मत भी बदलता है साथ ही आपके लिए आभकारी भी है। इसलिए ऐसे कार्य करने से बचना चाहिए।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here