यात्री का जेवरात व नकदी से भरा लेकर टाॅयलेट में जा छिपा शातिर, नहीं बच पाया आरपीएफ की नजरो से

0
12

कोटा-मुंबई-जयपुर सुपरफास्ट ट्रेन में ज्वैलरी और नकदी सहित करीब 2 लाख की चोरी की घटना सामने आई है। इस मामले में शामढ़ आरपीएफ की सतर्कता से चोर को ट्रेन में उतरने से पहले पकड़ लिया गया।

Live MCX

घटनाक्रम के अनुसार आरक्षक जसवंत सिंह, मनजीत सिंह औश्र योगेन्द्र सिंह को ट्रेन के भवानीमंडी स्टेशन में रवाना होने पर चोरी की सूचना मिली। इस पर तीनो ने पूरी ट्रेन की जांच की। ट्रेन के कोच संख्या-7 में मुंबई के यात्री वसमी ने बताया कि वह पत्नी औश्र दादी के साथ मुंबई से रामगंजमंडी आ रहा था। भवानीमंडी स्टेशन से रवाना होने पर पत्नी का पर्स चोरी हो गया। इसमें एक लाख पांच हजार 260 रू, 25 ग्राम सोने का मंगलसूत्र, दो सोने की अंगूठी, ती नचांदी की अंगूठी रखी हुई थी। इस तरह कुल 2 लाख 5 हजार 260 रू की कीमत का सामान चोरी हो गया।

सूचना पर सुरक्षा पार्टी में तैनात स्टाफ ने ट्रेन  के शौचालय आदि की जांच की। इस दौरान कोच संख्या एस-9 के एक शौचालय का दरवाजा बंद था। इसे खुलवाया, लेकिन अंदर से किसी ने नहीं खोला। काफी प्रयास के बाद दरवाजा खोला तो उसमें से एक व्यक्ति ने निकलकर भागने का प्रयास किया। उसके हाथ में काले कलर का लेडीज पर्स था। उसे आरपीएफ ने पकड़कर पर्स को यात्री वसीम को बताया तो उसने पहचान लिया। पर्स चोरी करने वाले व्यक्ति से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम भनपुरा निवासी मंगलेश बताया।

प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू-

गाड़ी के राजगंजमंडी स्टेशन पर ठहरने के बाद आरोपी को उतार लिया और जीआरपी को लिखित तहरीर दी। इस पर जीआरपी ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की। शामगढ़ आरपीएफ निरीक्षक प्रता सिंह ने बताया कि इस मांग पर चोरी की घटनाएं रोकने के लिए सघन निगरानी की जा रही है। वारदात की सूचना समय पर मिने से आरोपी पकड़ा गया और पार्स मिल गया।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here